Thursday, September 29, 2022
Home मध्यप्रदेश मुख्यमंत्री चौहान 12 अगस्त को "मुख्यमंत्री कोविड-19 बाल सेवा योजना" के हितग्राही...

मुख्यमंत्री चौहान 12 अगस्त को “मुख्यमंत्री कोविड-19 बाल सेवा योजना” के हितग्राही बच्चों से करेंगे सीधा संवाद

मध्य-प्रदेश;

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान रक्षा-बंधन के पर्व पर 12 अगस्त को “मुख्यमंत्री कोविड-19 बाल सेवा योजना” के हितग्राही बच्चों से सीधा संवाद करेंगे। कार्यक्रम में भोपाल की बाल देख-रेख संस्थाओं के भी बच्चों को आमंत्रित किया गया है। मुख्यमंत्री निवास पर प्रात: 11 बजे होने वाले इस कार्यक्रम में प्रदेश के विभिन्न जिलों से लगभग 250 बच्चे शामिल होंगे। बच्चों द्वारा मुख्यमंत्री को रक्षा सूत्र बांधे जायेंगें और विभिन्न प्रस्तुति भी दी जाएगी। मुख्यमंत्री श्री चौहान आमंत्रित बच्चों को उपहार वितरित भी करेंगे। 

संचालक महिला-बाल विकास डॉ. राम राव भोंसले ने बताया कि जो बच्चे इस कार्यक्रम में शामिल नहीं हो पायेंगें, उनसे मुख्यमंत्री वीसी के माध्यम से संवाद करेंगें। कार्यक्रम का सीधा प्रसारण दूरदर्शन सहित क्षेत्रीय चैनल एवं सोशल मीडिया से किया जाएगा।

प्रदेश में कोविड के कारण अनाथ हुए बच्चों की सहायता के लिये शुरू की गई मुख्यमंत्री कोविड बाल सेवा योजना के 1399 हितग्राहियों को प्रति माह 5 हजार रुपये की आर्थिक सहायता, निःशुल्क खाद्यान्न वितरण और शिक्षा सम्बन्धी सहायता प्रदान की जा रही है।  प्रदेश में ऐसे बच्चे जिनके माता या पिता में से किसी एक की मृत्यु कोविड के दौरान हुई है और परिवार विषम आर्थिक परिस्थिति में है, को स्पॉन्सरशिप तथा फोस्टर केयर योजना में 2 हजार रुपये प्रतिमाह प्रति बच्चे के मान से लाभ दिया जा रहा है।  प्रदेश में शासकीय स्पॉन्सरशिप तथा फोस्टर केयर अंतर्गत 2040 बच्चों को लाभान्वित किया जा रहा है। शासकीय  स्पॉन्सरशिप के अतिरिक्त निजी स्पॉन्सरशिप में औद्योगिक इकाइयों, समाजसेवी संगठनों, व्यापारियों और गणमान्य नागरिकों द्वारा 5647 बच्चों को स्पांसर किया गया है, जो देश में अपनी तरह की अभिनव पहल है। 

प्रदेश में ऐसे बच्चे जो किसी भी कारण से अनाथ हो गए हैं और अपने सम्बन्धियों या संरक्षकों के साथ जीवन-यापन कर रहे हैं, को सहायता प्रदान करने तथा बाल देख-रेख संस्थाओं को छोड़ने वाले 18 वर्ष से अधिक आयु के बच्चों को आर्थिक एवं शैक्षणिक सहयोग देकर समाज में पुनर्स्थापित करने हेतु नवीन “मुख्यमंत्री बाल आशीर्वाद योजना” भी प्रारम्भ की जा रही है, जिसमें न केवल समुदाय के अनाथ बच्चों को आर्थिक सहायता, वरन् बाल देख-रेख संस्थाओं से निर्मुक्त होने वाले 18 वर्ष से  अधिक के बच्चों को आफ्टर केयर अंतर्गत व्यावसायिक प्रशिक्षण, इंटर्नशिप एवं कोचिंग में सहायता के लिये 5 हजार रुपये प्रतिमाह की सहायता भी दी जाएगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Latest Post

9

6

कैबिनेट मंत्री धन सिंह रावत ने लोनिवि की समीक्षा बैठक में सड़कों के डामरीकरण एवं मरम्मत के दिए निर्देश

छह माह में पूर्ण हो निर्माणाधीन मोटरमार्गों का कार्यः डॉ0 धन सिंह रावत शीघ्र हो पूरा मुख्यमंत्री घोषणा के तहत स्वीकृत सड़कों का कार्य वन विभाग...

धामी सरकार ने तबादलों के नियम बदलकर दी कर्मचारियों को बड़ी राहत, जानिए नये नियमों से कैसे होंगे तबादले

उत्तराखंड , देहरादून। उत्तराखंड की धामी सरकार ने तबादलों के नियम बदलकल कर्मचारियों को बड़ी राहत दी है। राज्य में परिवहन, माध्यमिक शिक्षा, उच्च शिक्षा,...

सफेद दाढ़ी, बिखरे बालों में दिखे अक्षय, राम सेतु का मच-अवेटेड टीजर हुआ आउट

  बच्चन पांडे, पृथ्वीराज, रक्षाबंधन के बाद अब अक्षय कुमार जैकलीन फर्नांडीस और नुसरत भरुचा के साथ मिलकर लेकर आ रहे है राम सेतु। फिल्म...

मुख्य सचिव डॉ. एस. एस. संधु ने प्रदेश में बनाई जाने वाली नई पार्किंग प्रोजेक्ट्स की प्रगति की समीक्षा की।

उत्तराखंड,  मुख्य सचिव डॉ. एस. एस. संधु ने सोमवार को सचिवालय में प्रदेश में बनाई जाने वाली नई पार्किंग प्रोजेक्ट्स की प्रगति की समीक्षा की।...

मुख्यमंत्री  शिवराज सिंह चौहान ने 30 सितम्बर को लाल परेड ग्राउण्ड भोपाल में होने वाले कार्यक्रम की तैयारियों की समीक्षा

मध्यप्रदेश ; मुख्यमंत्री  शिवराज सिंह चौहान भोपाल में लाल परेड ग्राउंड पर आगामी 30 सितंबर को प्रतिभाशाली विद्यार्थियों को लैपटॉप वितरण के प्रदेश स्तरीय कार्यक्रम...

7

उत्तराखंड लोक सेवा आयोग ने प्रदेश में समूह-ग की 12 और भर्तियों का कैलेंडर किया जारी, पढ़िए पूरी खबर

देहरादून।  उत्तराखंड लोक सेवा आयोग ने प्रदेश में समूह-ग की 12 और भर्तियों का कैलेंडर जारी कर दिया है। आयोग ने इन भर्तियों के विज्ञापन...

बुधनी में 29 सितम्बर को होंगे औद्योगिक क्लस्टर्स के शिलान्यास और लोकार्पण

मध्यप्रदेश मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि युवाओं सहित प्रदेश के ऐसे सभी लोगों को जो जीविका चलाने के लिए काम करना चाहते...