Home अंतर्राष्ट्रीय पाकिस्तान में एक दशक की भीषण बाढ़ से बुरा हाल, सेना बुलाई,...

पाकिस्तान में एक दशक की भीषण बाढ़ से बुरा हाल, सेना बुलाई, आधा देश डूबा

पाकिस्तान :

पाकिस्तान के सिंध व बलूचिस्तान में बाढ़ से बुरा हाल है। एक दशक की भीषण बाढ़ से जूझ रहे देश के कई राज्यों में राहत व बचाव कार्यों में मदद के लिए सेना तैनात करने का फैसला किया गया है। पाकिस्तान के गृह मंत्री राणा सनाउल्लाह ने शनिवार को बताया कि प्रभावित इलाकों में सेना को मदद करने का आदेश दिया गया है। बाढ़ से 3.30 करोड़ लोग प्रभावित हुए हैं।

पूरे पाकिस्तान में बाढ़ से अब तक 982 लोगों की मौत हो चुकी है। राष्ट्रीय आपदा प्रबंधन प्राधिकरण (एनडीएमए) के अनुसार, पिछले 24 घंटों में 45 लोगों की मौत हुई है। गत  24 घंटों में 113 लोग घायल हुए हैं। इसके साथ ही घायलों की संख्या 1,456 हो गई है।

बाढ़ से सिंध व बलूचिस्तान बुरी तरह प्रभावित हुए हैं। यहां बड़े पैमाने पर तबाही हुई है। पाकिस्तान रेलवे ने दोनों प्रांतों के कई इलाकों में ट्रेनें बंद कर दी हैं। वहीं, पाकिस्तान इंटरनेशनल एयरलाइंस ने खराब मौसम के कारण शुक्रवार को बलूचिस्तान की राजधानी क्वेटा के लिए उड़ानें रोक दीं।

गृह मंत्री राणा सनाउल्लाह ने कहा कि संविधान के अनुच्छेद 245 के तहत सेना को बुलाया गया है। यह सरकार को आपात स्थिति से निपटने के लिए स्थानीय प्रशासन की मदद करेगी। बाढ़ ने देश के बुनियादी ढांचे को बुरी तरह प्रभावित किया है। एनडीएमए ने बताया कि 3,161 किलोमीटर से अधिक सड़क क्षतिग्रस्त हो गई और 149 पुल बह गए, जबकि 682,139 घर बाढ़ में पूरी तरह या आंशिक रूप से क्षतिग्रस्त हो गए। अभूतपूर्व बारिश के कारण पाकिस्तान में आई बाढ़ से देश का आधे से अधिक हिस्सा जलमग्न हो गया है। 110 जिलों में 57 लाख से अधिक लोग बगैर भोजन व ठिकाने के रहने को मजबूर हैं।

192 फीसदी ज्यादा बारिश
एनडीएमए के आंकड़ों से पता चलता है कि पिछले 30 सालों के दौरान पाकिस्तान में मानसून काल में औसत वर्षा 132.3 मिलीमीटर बारिश होती थी, जबकि इस साल 14 जून से अब तक 385.4 मिमी बारिश दर्ज की गई है। पिछले तीन दशकों की तुलना में लगभग 192 फीसदी अधिक है।

पाकिस्तान के पर्यावरण मंत्री शेरी रहमान ने बताया कि देश में आमतौर पर हर साल लगभग तीन से चार बार मूसलाधार बारिश होती है। हालांकि, इस साल अब तक आठ बार मानसून की चपेट में रहा है और अधिक बारिश की उम्मीद है। प्रधानमंत्री शहबाज शरीफ ने शुक्रवार को इस्लामाबाद स्थित राजदूतों, उच्चायुक्तों और राजनयिक कोर के राजदूत के अन्य वरिष्ठ सदस्यों के एक समूह के साथ बैठक में देश में बाढ़ की स्थिति के बारे में जानकारी दी।

 

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Latest Post

4

3

2

1

मुख्य सचिव डॉ. एस.एस. संधु ने राजस्व वादों की समीक्षा बैठक के दौरान राजस्व वादों के तेजी से निस्तारण के दिए निर्देश।

उत्तराखंड, देहरादून ; मुख्य सचिव डॉ. एस.एस. संधु ने शुक्रवार को सचिवालय में राजस्व वादों की समीक्षा बैठक के दौरान राजस्व वादों के तेजी से...

नैनीताल में स्कूटी और बाइक की आमने- सामने से हुई जोरदार टक्कर, बाइक सवार की मौके पर मौत

नैनीताल। भवाली रोड पर स्कूटी और बाइक में आमने-सामने से जोरदार टक्कर हो गई, जिससे बाइक सवार की मौत हो गई, जबकि उसका साथी और...

 सीएम पुष्कर सिंह धामी ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और केंद्रीय ग्रामीण विकास मंत्री गिरिराज सिंह का आभार  जताया

 डबल इंजन का प्रदेश को मिल रहा फायदा :  सीएम धामी देहरादून ; केंद्र सरकार द्वारा प्रधानमंत्री आवास योजना- ग्रामीण में उत्तराखण्ड के लिये 18602 अतिरिक्त...

10 दिसंबर होने वाली आईएमए की पासिंग आउट परेड में देश-विदेश के कैडेट बनेंगे सेना का अभिन्न अंग

देहरादून।  भारतीय सैन्य अकादमी (आईएमए) में पासिंग आउट परेड आगामी 10 दिसंबर को होगी। इसमें देश-विदेश के जेंटलमैन कैडेट बतौर अधिकारी बनकर अपने-अपने देश की...

मुख्यमंत्री चौहान ने पर्यावरण प्रेमी संस्था के सदस्यों के साथ लगाए पौधे, पूर्व महापौर आलोक शर्मा ने अपने जन्म-दिन पर किया पौध-रोपण

मध्य-प्रदेश मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने स्मार्ट सिटी पार्क में अशोक, शहतूत, केसिया और सामिया के पौधे लगाए। मुख्यमंत्री चौहान के साथ भोपाल के पूर्व...

मध्यप्रदेश में भी लगाएंगे बहुआयामी कृषि प्रदर्शनी, लागू करेंगे नवाचार – मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान

मध्य प्रदेश मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि किसानों की आर्थिक समृद्धि के लिए मध्यप्रदेश में अनेक महत्वपूर्ण कदम उठाए गए हैं। गेहूँ...