Home मध्यप्रदेश मुख्यमंत्री चौहान : वेलनेस और स्पिरिचुअल टूरिज्म डेस्टिनेशन बनेगा मध्यप्रदेश

मुख्यमंत्री चौहान : वेलनेस और स्पिरिचुअल टूरिज्म डेस्टिनेशन बनेगा मध्यप्रदेश

मध्य प्रदेश, भोपाल :

अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस के अवसर पर ऑनलाइन वेबिनार आयोजित

मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि वेलनेस और स्पिरिचुअल टूरिज्म डेस्टिनेशन के लिए मध्यप्रदेश सबसे उपयुक्त प्रदेश है। मध्यप्रदेश की प्राकृतिक और समृद्ध विरासत अनायास ही पर्यटन प्रेमियों को आकर्षित करती है।

मुख्यमंत्री श्री चौहान पर्यटन विभाग द्वारा अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस पर ‘वेलनेस और स्पिरिचुअल टूरिज्म डेस्टिनेशन’ विषय पर आयोजित ऑनलाइन वेबिनार को संबोधित कर रहे थे। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस के अवसर पर योग का महत्व बताते हुए कहा कि शरीर को स्वस्थ रखने के लिए अगर कोई रामबाण है, तो वह योग है। योग और प्राणायाम अगर निरंतर किया जाता है तो शरीर निरोगी बनता है, बुद्धि प्रखर होती है। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि योग हमारी वैदिक संस्कृति की हजारों साल पुरानी विधा है। प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी की पहल के कारण अब पूरी दुनिया योग का लाभ उठा रही है। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने सभी से आग्रह किया कि संकल्प लें कि आप सभी प्रतिदिन योग और प्राणायाम करेंगे। प्रतिदिन योग और प्राणायाम करके शरीर को स्वस्थ, निरोग और प्रसन्न बनाएँ। 

पर्यटन, संस्कृति और अध्यात्म मंत्री सुश्री उषा ठाकुर ने कहा कि यह उपयुक्त समय है जब प्रदेश स्पिरिचुअल टूरिज्म की दिशा में कार्य करे और भौतिकता से दग्ध मानवता को सुख, शांति और श्रेष्ठ स्वास्थ की ओर ले जाए। इस दिशा में पर्यटन विभाग द्वारा पचमढ़ी में एक वेलनेस सेंटर स्थापित किया गया है। इस वेलनेस सेंटर पर प्राकृतिक चिकित्सा, योग और अन्य उपचार की विधाएं पर्यटकों को उपलब्ध कराई जाएंगी। प्रदेश के सभी स्वास्थ्य केंद्रों पर योग के माध्यम से स्वस्थ रहने की प्रेरणा का कार्यक्रम किया जाएगा। वेलनेस और स्पिरिचुअल टूरिज्म के क्षेत्र में निरंतर नवाचार किए जायेंगे।

प्रमुख सचिव पर्यटन और संस्कृति श्री शिव शेखर शुक्ला ने ऑनलाइन वेबीनार में प्रदेश में शुरू की गई वैलनेस पर्यटन नीति के बारे में विस्तार से चर्चा की। उन्होंने मध्यप्रदेश में वेलनेस स्पिरिचुअल टूरिस्ट डेस्टिनेशन विकसित करने में मदद करने के लिए बड़ी वेलनेस ब्रांड कंपनियों के साथ-साथ स्थानीय निवेशकों को भी आमंत्रित किया। श्री शुक्ला ने कहा कि वर्तमान कोरोना महामारी के दौर में विश्व स्तर पर वैलनेस और स्पिरिचुअल टूरिज्म की मांग में भारी उछाल आया है। अब पर्यटक लग्जरी टूरिज्म की जगह प्रकृति के समीप टूरिज्म डेस्टिनेशन की तलाश कर रहे है। मध्यप्रदेश प्राकृतिक डेस्टिनेशन से समृद्ध प्रदेश है। इसका लाभ उठाते हुए मध्यप्रदेश एक सार्वभौमिक मान्यता प्राप्त वैलनेस डेस्टिनेशन बनने के लिए तैयार है। हम एक रिस्पॉन्सिबल टूरिज्म की नीति पर कार्य करेंगे जिसमें हम प्रदेश में पर्यटकों की संख्या बढ़ाने के साथ-साथ कार्बन फूट प्रिंट कम करके सस्टेनेबल नेचर की दिशा में आगे बढ़ेंगे।

ऑनलाइन वेबिनार में लद्दाख से एसईसीएमओएल के एडवाइजर और एचआईएएल के फाउंडर श्री सोनम वांगचुक ने कहा कि लद्दाख में पर्यटकों की संख्या बढ़ने के साथ-साथ प्राकृतिक संसाधनों पर भार बढ़ा है। इसलिए हमें अपने टूरिज्म सेक्टर को विकसित करने के साथ-साथ उसे सहेजने की ओर ध्यान देना चाहिए। मध्यप्रदेश, भूटान और लद्दाख तीनों ही वेलनेस और स्पिरिचुअल टूरिज्म के लिए उपयुक्त स्थान हैं।

भूटान टूरिज्म काउंसिल के डायरेक्टर जनरल श्री दोरजी द्रधुल ने भूटान की पर्यटन नीति के बारे में बताते हुए मध्यप्रदेश में आध्यात्मिक पर्यटन स्थलों को विकसित करने पर अपने विचार रखे। श्री दोरजी द्रधुल ने कहा कि मध्यप्रदेश प्राकृतिक रूप से समृद्ध प्रदेश है। यहां नैसर्गिक सौंदर्य के बीच स्वास्थ्य लाभ लेने के लिए वेलनेस सेंटर स्थापित किया जाना उचित होगा। उन्होंने मध्यप्रदेश में वेलनेस और स्पिरिचुअल टूरिज्म डेस्टिनेशन विकसित करने के लिए भूटान से हरसंभव मदद का आश्वासन भी दिया।

ऑनलाइन वेबिनार का संचालन टूरिज्म स्पेशलिस्ट और ऑथर सुश्री विनीता राशिनकर ने किया। वेबिनार में देश और प्रदेश के विभिन्न क्षेत्रों से पर्यटन प्रेमी वर्चुअली उपस्थित रहें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Latest Post

मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने जनपद टिहरी क्षेत्रान्तर्गत परोगी(अगलाड़) थत्यूड़ में विभिन्न विकास योजनाओं का किया लोकार्पण एवं शिलान्यास।

देहरादून; मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने सोमवार को जनपद टिहरी क्षेत्रान्तर्गत परोगी(अगलाड़) थत्यूड़ में विभिन्न विकास योजनाओं का लोकार्पण एवं शिलान्यास किया। उन्होंने अठजूला क्रीड़ा...

गौचर व चिन्यालीसौड़ के लिए जल्द शुरू होगी हवाई सेवा

उत्तराखंड / नई दिल्ली ; उड़ान योजना के अगले टेंडर में शामिल की जाएगी गौचर व चिन्यालीसौड़ की हवाई सेवा पिथौरागढ़ से फिक्स्ड विंग...

राष्ट्र के प्रति समर्पित नागरिकों का निर्माण करती है एनसीसी : राज्यपाल मंगुभाई पटेल

एनसीसी स्थापना दिवस पर साइकिलिस्ट का किया स्वागत मध्यप्रदेश ; राज्यपाल मंगुभाई पटेल ने कहा है कि एनसीसी दुनिया का सबसे बड़ा वर्दीधारी युवा संगठन है।...

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने अशोक, कचनार और गूलर के पौधे लगाए

मध्यप्रदेश; मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने स्मार्ट सिटी उद्यान में रायसेन की उड़ान वेलफेयर सोसाइटी के सदस्यों के साथ अशोक, कचनार और गूलर के पौधे...

VIP ड्यूटी से मुक्त होंगे SDM, मुख्य सचिव ने दिए निर्देश, प्रोटोकॉल अफसर किए जाएंगे तैनात

देहरादून ; जिलाधिकारी और उपजिलाधिकारी वीआईपी ड्यूटी में व्यस्त रहने के कारण अपने मूल काम को समय नहीं दे पाते हैं। हालत यह है कि...

भ्रष्टाचार कोढ़ है, इसे पूरी तरह समाप्त करना जरूरी : मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान

सुशासन के लिए जन-प्रतिनिधि, अधिकारी-कर्मचारी टीम भावना और दृढ़ इच्छाशक्ति के साथ कार्य करें प्रभारी मंत्री प्रति माह जिले में संचालित योजनाओं, विकास कार्यों और...

पर्यटन विभाग ने की चारधाम यात्रा का संचालन नए चारधाम यात्रा बस ट्रांजिट कैंप से करने की तैयारी

उत्तराखंड, ऋषिकेश  पर्यटन विभाग ने अगले वर्ष से चारधाम यात्रा का संचालन नए चारधाम यात्रा बस ट्रांजिट कैंप से किए जाने की तैयारी कर ली...

सूचना, महानिदेशक वंशीधर तिवारी : सूचना एवं लोकसम्पर्क विभाग तथा पत्रकार एक दूसरे से जुड़े हैं।

उत्तराखंड, काशीपुर  मीडिया सेन्टर ने सम्मान एवं परिचर्चा कार्यक्रम में सूचना विभाग के महानिदेशक वंशीधर तिवारी का स्वागत किया। मीडिया सेंटर ने प्रेस क्लब को...

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने वरिष्ठ पत्रकार स्व. राजकुमार केसवानी की जयंती पर पौध-रोपण किया

मध्यप्रदेश, Bhopal ; मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने प्रसिद्ध पत्रकार तथा लेखक स्व. श्री राजकुमार केसवानी की जयंती पर उनके परिजन और परिचितों के साथ...

मुख्य सचिव डॉ. एस.एस. संधु ने राजस्व वादों की समीक्षा बैठक के दौरान राजस्व वादों के तेजी से निस्तारण के दिए निर्देश।

उत्तराखंड, देहरादून ; मुख्य सचिव डॉ. एस.एस. संधु ने शुक्रवार को सचिवालय में राजस्व वादों की समीक्षा बैठक के दौरान राजस्व वादों के तेजी से...