Tuesday, July 5, 2022
Home उत्तराखंड मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत ने सचिवालय में आयोजित बैठक में वनाग्नि प्रबंधन...

मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत ने सचिवालय में आयोजित बैठक में वनाग्नि प्रबंधन की तैयारियों की समीक्षा की। 

देहरादून :- 

  • फील्ड लेवल तक पर्याप्त बजट और उपकरणों की उपलब्धता सुनिश्चित हो।
  •  फायरलाईन की माॅनिटरिंग के लिए ड्रोन सर्वे किया जाए।
  •  स्थानीय लोगों के हक हकूक का समय से वितरण किया जाए
  •  मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत ने सचिवालय में आयोजित बैठक में वनाग्नि प्रबंधन की तैयारियों की समीक्षा की।       
            मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत ने सचिवालय में वनाग्नि प्रबंधन की बैठक लेते हुए कैम्पा में स्वीकृत धनराशि को तत्काल फील्ड लेवल तक उपलब्ध कराने के निर्देश दिए। मुख्यमंत्री ने कहा कि वनाग्नि शमन के दौरान मृतक कार्मिकों और स्थानीय नागरिकों के परिवारों को अनुग्रह राशि अविलम्ब उपलब्ध कराई जाएं। वन कर्मियों को वनाग्नि शमन के लिए जरूरी सभी उपकरणों की व्यवस्था सुनिश्चित हो फायरलाईन की माॅनिटरिंग के लिए ड्रोन सर्वे कराया जाए। आपदा प्रबंधन विभाग को वनाग्नि शमन के लिए हेलीकाप्टर की भी व्यवस्था रखने के निर्देश दिए।सचिवालय में आयोजित बैठक में वनाग्नि प्रबंधन की तैयारियों की समीक्षा करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि वन पंचायतों और स्थानीय लोगों की सहभागिता बहुत जरूरी है। स्थानीय लोगों के हक हकूक का समय से वितरण किया जाए।
     वन, पुलिस,राजस्व व अन्य संबंधित विभागों में पूरा समन्वय हो। जिलाधिकारी नियमित रूप से वनाग्नि प्रबंधन की समीक्षा करें और ये सुनिश्चित करें कि आवश्यक मानव संसाधन, उपकरण आदि उपलब्ध हों। यदि कोई समस्या हो तो शासन को अवगत कराएं। वनाग्नि प्रबंधन संबंधी कार्यों में 5 हजार महिलाओं की सक्रिय भागीदारी की योजना बनाई जाए। फोरेस्ट फायर कन्जरवेंसी सिस्टम को विकसित कर आमजन में व्यापक प्रचार प्रसार किया जाए।

  •        मुख्यमंत्री ने वनाग्नि प्रबंधन के लिए की गई तैयारियों के संबंध में वीडियो कान्फ्रेंसिंग द्वारा जिलाधिकारियों से भी जानकारी ली। उन्होंने कहा कि जानबूझकर आग लगाने वालों को चिन्हित किया जाए। वनाग्नि के कारण जो भी क्षति होती है, उसमें आपदा के मानकों के अनुसार तत्काल राहत राशि प्रदान की जाए। पिरूल एकत्रण का भुगतान समय से हो। इसके लिए प्रभावी मैकेनिज्म बना लिया जाए।बैठक में बताया गया कि प्रतिवर्ष लगभग 36 हजार हैक्टेयर वन क्षेत्र में वनाग्नि शमन के लिए जरूरी नियंत्रित दाहन किया जाता है। लगभग 2700 किमी फायर लाईनों का रखरखाव किया जाता है। स्थानीय निवासियों से प्रतिवर्ष लगभग 7000 फायर वाचर अग्निकाल में लगाए जाते हैं। 40 मास्टर कंट्रोल रूम, 1317 कू्र स्टेशन और 174 वाच टावर स्थापित हैं। जिला फायर समितियों की बैठक कर ली गई हैं।बैठक में मुख्य सचिव श्री ओमप्रकाश, प्रमुख सचिव श्री आनंदबर्द्धन, सचिव श्री अमित नेगी, श्री नीतेश झा, प्रमुख वन संरक्षक श्री राजीव भरतरी, सहित वन विभाग के अधिकारी, मंडलायुक्त और जिलाधिकारी उपस्थित थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Latest Post

दस्तक अभियान में प्लानिंग और प्रशिक्षण पर दें पर्याप्त ध्यान : स्वास्थ्य आयुक्त

मध्य-प्रदेश ; दस्तक अभियान के पहले कार्य-योजना तैयार करने और अभियान से जुड़े अमले को प्रशिक्षण देने पर पर्याप्त ध्यान दिया जाये। दस्तक अभियान की...

हरिद्वार में कांवड़ यात्रा के लिए स्वास्थ्य विभाग ने बनाई कार्ययोजना, यात्रियों के लिए 18 स्थानों पर बनाए जांएगे स्वास्थ्य केंद्र

हरिद्वार।  कांवड़ मेले में आने वाले शिवभक्तों को स्वास्थ्य सेवाएं देने के लिए स्वास्थ्य विभाग ने कार्ययोजना बनानी शुरू कर दी है। सीएमओ ने कांवड़...

अभी तक श्री बदरीनाथ नौ लाख पंद्रह हजार, केदारनाथ आठ लाख सैंतालीस हजार , गंगोत्री पहुंचे चार लाख सैंतीस हजार तथा यमुनोत्री पहुंचे तीन...

देहरादून।  चारधाम यात्रा में श्रद्धालुओं का सैलाब उमड़ा है आज तक 25 लाख 38 हजार दो सौ सत्तासी तीर्थयात्री उत्तराखंड चारधाम दर्शन हेतु पहुंच गये...

मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने की भगवान श्री तिरुपति बालाजी मन्दिर में पूजा- अर्चना

  उत्तराखंड  देहरादून।   मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामीआंध्र प्रदेश के दौरे पर पहुंचे हुए है, इस दौरान सीएम ने आज तिरुमाला पर्वत पर स्थित भगवान...

44वें शतरंज ओलिंपियाड की मशाल पहुँची भोपाल, खेल मंत्री श्रीमती सिंधिया को ग्रैंड मास्टर अनुराग महामल ने सौंपी टॉर्च

मध्य-प्रदेश ; प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा 19 जून को रवाना की गई 44वें शतरंज ओलिंपियाड की मशाल रिले 4 जुलाई सोमवार को भोपाल पहुँची। ग्रैंड...

गोट वैली विलेज मुख्यमंत्री घसियारी कल्याण योजना और एम्पेक्स कंप्यूटराइजेशन में तेजी लाने को सचिव सहकारिता ने दिए निर्देश

 देहरादून केंद्रीय मंत्रिमंडल ने 63,000 पैक्स समितियों के कंप्यूटरीकरण के लिए 2,516 करोड़ रुपये की राशि मंजूर की है। प्रधानमंत्री की अध्यक्षता में हुई मंत्रिमंडल...

एकनाथ शिंद ने साबित किया बहुमत, फडणवीस बोले हां, महाराष्ट्र में ईडी की सरकार है, विपक्ष को समझाया ईडी का मतलब

महाराष्ट्र। महाराष्ट्र विधानसभा में आज एकनाथ शिंदे नीत भाजपा शिवसेना के बागी गुट की सरकार ने बहुमत साबित कर दिया। विश्वास प्रस्ताव पर चर्चा...