Home उत्तराखंड पूर्व सीएम त्रिवेंद्र रावत : कोविड टेस्ट घोटाले की न्यायिक जांच हो,...

पूर्व सीएम त्रिवेंद्र रावत : कोविड टेस्ट घोटाले की न्यायिक जांच हो, पता चल जाएगा घटना किसके कार्यकाल की है

Haridwar Kumbh Corona Testing Scam: हरिद्वार कुंभ में लाखों फर्जी कोविड टेस्ट का मामला उजागर होने के बाद हलचल मच गई है. पूर्व सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत ने मामले की अच्छी एजेंसी से न्यायिक जांच कराने की मांग की है.

देहरादून. हरिद्वार कुंभ (Haridwar Kumbh Mela) तो बीत गया, लेकिन उसकी तपिश अभी भी बनी हुई है. कुंभ में लाखों फर्जी कोविड टेस्ट का मामला उजागर होने के बाद हलचल मच गई है. मामले ने तूल पकड़ा तो अक्सर अपनी बात रखकर मीडिया के सवालों का जवाब दिए बिना चले जाने वाले सीएम तीरथ सिंह रावत (CM Tirath Singh Rwat) ने गुरुवार को फर्जी कोविड रिपोर्ट के सवाल पर कहा कि ये मामला पुराना है. मैंने तो 10 मार्च को शपथ ली थी और मामला सामने आया तो मैंने जांच के आदेश भी कर दिए थे.

तीरथ रावत के इस बयान ने बीजेपी के अंदर की सियासत को और तेज कर दिया. सीएम के इस बयान को सीधे तौर पर पूर्व सीएम से जोड़कर देखा जा रहा है. बयान के मायने तलाशें जाएं, तो ये घोटाला पूर्व सीएम त्रिवेंद्र रावत (EX CM Trivendra Singh Rawat) के कार्यकाल का बनता है. इस बारे में पूर्व सीएम त्रिवेंद्र रावत से जब पूछा गया तो उनका कहना था कि पहले भी बीजेपी की सरकार थी और अब भी बीजेपी की सरकार है. लेकिन एक घोटाला अगर सामने आया है, तो मैंने मुख्यमंत्री द्वारा एसआईटी जांच कराए जाने के बयान का स्वागत किया है.

त्रिवेंद्र रावत आगे कहते हैं कि निश्चित रूप से कोई भी घोटाला होता है, उसकी जांच होनी ही चाहिए. लेकिन मैं देख रहा हूं कि इस घोटाले को केवल और केवल आर्थिक घोटाले के रूप में देखा जा रहा है.  इसको पूर्ण रूप में देखा जाना चाहिए, क्योंकि यह महामारी से जुड़ा हुआ मसला है. इस महामारी में देश के लाखों लोग जान गवां चुके हैं. यह केवल आर्थिक भ्रष्टाचार नहीं है बल्कि एक महामारी में इस तरह कृत्य को 307 की श्रेणी का अपराध यानि ‘अटैम्पट टू मर्डर’ के रूप में देखा जाना चाहिए. इसलिए इस पर बहुत गंभीरता से, मैं तो कहूंगा कि इस पर न्यायिक जांच बैठानी चाहिए. ताकि दूध का दूध और पानी का पानी भी हो सके. ये कब की घटना है किसके कार्यकाल की घटना है, ये भी पब्लिक के सामने स्पष्ट हो जाना चाहिए कि आखिर कब इस तरह के लाखों फर्जी टेस्ट हुए.

त्रिवेंद्र सिंह रावत ने आगे कहा कि मुझे ऐसा ध्यान है कि कोर्ट ने 16-17 मार्च के बाद या 23-24 मार्च में इस तरह का कोई निर्देश स्टेट गवर्नमेंट को दिया था. लेकिन जहां तक मुझे ध्यान है कोविड टेस्ट कराने का ऐसा कोई टेंडर मेरे समय में  नहीं हुआ था. हां इतना जरूर है कि कुंभ का नोटिफिकेशन हमारे समय में हुआ था. जो 1 अप्रैल से लेकर के 30 अप्रैल तक का था. सीएम तीरथ द्वारा ये मामला पिछली सरकार से जुड़ा होने के बयान पर त्रिवेंद्र रावत ने कहा कि- सरकार सरकार होती. पोजीशन व्यक्ति की बदलती रहती है. कोई भी सरकार अगर उसमें घोटाला होता है तो जांच का विधान भी है. कब की गड़बड़ है, किसकी गड़बड़ है, ये जांच से ही पता चलेगा.

source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Latest Post

मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने किया मिशन ड्रग्स Free देवभूमि का शुभारम्भ

मिशन ड्रग्स फ्री देवभूमि को जन अभियान बनाने के लिए मुख्यमंत्री ने किया प्रदेश के युवाओं का आह्वाहन युवा नशे को दृढ़ता से कहें ना-सीएम नशे...

सड़क दुर्घटनाएँ चिंतनीय विषय : एसीएस डॉ. राजौरा

मध्यप्रदेश राज्य सड़क सुरक्षा क्रियान्वयन समिति की बैठक मध्य-प्रदेश; अपर मुख्य सचिव डॉ. राजेश राजौरा ने सड़क दुर्घटनाओं पर चिंता जताई है। उन्होंने कहा कि इसे...

केन्द्रीय रक्षा मंत्री सिंह से प्रदेश के उद्यानिकी राज्य मंत्री कुशवाह ने की भेंट

मध्य-प्रदेश : केन्द्रीय रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह से प्रदेश के उद्यानिकी एवं खाद्य प्र-संस्करण राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) भारत सिंह कुशवाह ने नई दिल्ली में...

केन्द्रीय मंत्री रेड्डी से प्रदेश के उद्यानिकी राज्य मंत्री कुशवाह ने की भेंट

मध्य-प्रदेश ; केन्द्रीय संस्कृति एवं पर्यटन मंत्री जी. किशन रेड्डी से प्रदेश के उद्यानिकी एवं खाद्य प्र-संस्करण राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार)  भारत सिंह कुशवाह ने...

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने आम, नीम और खिरनी के पौधे लगाए

"नर सेवा-नारायण सेवा" समिति के सदस्य पौध-रोपण में शामिल हुए मध्य-प्रदेश मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने श्यामला हिल्स स्थित उद्यान में आम, नीम और खिरनी के...

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने लोकार्पित की 75 ई-बाइक्स

स्मार्ट सिटी उद्यान से हरी झण्डी दिखा कर किया रवाना मुख्यमंत्री चौहान ने भी चलाई ई-बाइक मध्य-प्रदेश : मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने श्यामला हिल्स स्थित उद्यान...

कैबिनेट मंत्री सतपाल महाराज ने चौबट्टाखाल को फिर दिया 37 करोड़ की योजनाओं का तोहफा

जयहरीखाल (पौडी)। चौबट्टाखाल विधायक और प्रदेश के पंचायती राज, पर्यटन, लोक निर्माण, सिंचाई, ग्रामीण निर्माण, जलागम, धर्मस्व एवं संस्कृति मंत्री सतपाल महाराज ने एक...

पुलिस ने देशभक्ति और जन-सेवा के मूल मंत्र को साकार किया : मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान

कोविड काल में सेवा का नया अध्याय रचा गया मुझे गर्व है प्रदेश के पुलिस प्रशासन पर मुख्यमंत्री ने संभागायुक्त, आईजी, पुलिस कमिश्नर, कलेक्टर तथा पुलिस...

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने वरिष्ठ पत्रकार स्व. सत्यनारायण श्रीवास्तव की पुण्य-तिथि पर किया पौध-रोपण

मध्य-प्रदेश ; मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने श्यामला हिल्स स्थित उद्यान में प्रदेश के वरिष्ठ पत्रकार रहे स्व. श्री सत्यनारायण श्रीवास्तव की स्मृति में 42...

पर्यटन मंत्री सतपाल महाराज ने हास्पिटल सहित अपने क्षेत्र को दी 100 करोड़ 70 लाख की योजनायें

एकेश्वर (पौडी)। प्रदेश के पंचायती राज, पर्यटन, लोक निर्माण, सिंचाई, ग्रामीण निर्माण, जलागम, धर्मस्व एवं संस्कृति मंत्री सतपाल महाराज ने अपने विधानसभा क्षेत्र एकेश्वर...