Tuesday, July 5, 2022
Home मध्यप्रदेश मध्य प्रदेश ::: प्रदेश में राष्ट्रीय राजमार्गों के लिये 3856 करोड़ रूपये...

मध्य प्रदेश ::: प्रदेश में राष्ट्रीय राजमार्गों के लिये 3856 करोड़ रूपये की कार्य-योजना मंजूर

मध्य प्रदेश, भोपाल :

लोक निर्माण मंत्री द्वारा केंद्र सरकार का आभार

प्रदेश में 724 किलोमीटर राष्ट्रीय राजमार्गों के लिए भारत सरकार द्वारा 3856 करोड़ रुपए की वार्षिक कार्य-योजना को मंजूरी दी है। इस राशि से प्रदेश के 51 राष्ट्रीय राजमार्गों  के सुदृढ़ीकरण, पुल और नवीन मार्गों के निर्माण का कार्य कराया जाएगा। लोक निर्माण मंत्री श्री गोपाल भार्गव ने इसके लिये केंद्र सरकार का आभार व्यक्त किया है।

लोक निर्माण विभाग के प्रमुख सचिव श्री नीरज मण्डलोई ने बताया कि प्रदेश से गुजरने वाले राष्ट्रीय राजमार्गों के रख-रखाव, गुणवत्ता नियंत्रण, चौड़ीकरण, सुदृढ़ीकरण, पुल निर्माण तथा नवीन राजमार्गों के निर्माण की विस्तृत कार्य-योजना तैयार  कर  भारत सरकार के सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्रालय को भेजी गई थी, जिसे भारत सरकार द्वारा स्वीकृति प्रदान की गई है। उन्होंने बताया कि इसके तहत 8 राष्ट्रीय राजमार्गों की 527 किलोमीटर सड़कों का चौड़ीकरण किया जायेगा। इस कार्य के लिये 2966 करोड़ रुपये की राशि की स्वीकृति दी गई है। इसी प्रकार 11 राष्ट्रीय राजमार्गों के 210 किलोमीटर के निर्माण में भू-अर्जन के लिये 526 करोड़ रुपये का प्रावधान किया गया है।

राष्ट्रीय राजमार्गों पर यातायात की सुगमता के लिये 3 पुलों के निर्माण के लिये 33 करोड़ रुपये, 7 राष्ट्रीय राजमार्गों के 197 किलोमीटर सड़क मार्गों के सुदृढ़ीकरण के लिये 125 करोड़ रुपये स्वीकृत किये गये हैं। इसी प्रकार प्रदेश में 22 राष्ट्रीय राजमार्गों पर 112 किलोमीटर क्षेत्र में सुदृढ़ीकरण सहित अन्य कार्यों के लिये 200 करोड़ रुपये तथा प्रदेश में नवीन 194 किलोमीटर राष्ट्रीय राजमार्गों की डीपीआर तैयार करने के लिये 6 करोड़ रुपये की राशि कार्य-योजना में स्वीकृत की गई है।

8 राष्ट्रीय राजमार्गों के चौड़ीकरण पर खर्चं होंगे 2966 करोड़ रूपये

वर्ष 2021-22 की स्वीकृत वार्षिक कार्य-योजना में नसरुल्लागंज-रेहटी-बुधनी मार्ग में 47 किलोमीटर क्षेत्र के चौड़ीकरण के लिये 3 करोड़ 4 लाख 55 हजार रुपये स्वीकृत किये गये हैं। इसी प्रकार जीरापुर सुसनेर से राजस्थान सीमा तक 47 किलोमीटर मार्ग के लिए 3 करोड़ 6 लाख 54 हजार, कुरावाई, मुंगावली से चंदेरी तक 81 किलोमीटर के लिए 4 करोड़ 99 लाख, डिंडौरी- सागर टोला 78 किलामीटर के लिए 3 करोड़ 29 लाख, जीरापुर-पचौर बायपास को सम्मलित करते हुए 53 किलोमीटर के लिए 4 करोड़ 36 लाख, कुन्डम सें शहापुरा 40 किलोमीटर के लिए 1 करोड़ 78 लाख, जाहरखेडा- बैरासिया- धौलखेड़ी बायपास को सम्मलित करते हुए 87 किलोमीटर के लिए 3 करोड़ 56 लाख रूपये तथा डिंडौरी से मण्डला से बायपास को सम्मलित करते हुए 94 किलोमीटर के लिए 5 करोड़ 56 लाख रूपये की राशि स्वीकृत की गई है।

11 राष्ट्रीय राजमार्गों के भू-अर्जन के लिए 526 करोड़ का प्रावधान

प्रमुख सचिव श्री नीरज मंडलोई ने बताया कि प्रदेश में 11 राष्ट्रीय राजमार्गों के विस्तार कार्य के लिए भू- अर्जन किया जाना है। इसके तहत एनएच-43 पवई बायपास पर 12 किलोमीटर, एनएच-943 कैथी-पडारीया कॅला बायपास पटना, तमोली बायपास, जासौ बायपास और नगोद बायपास 15 किलोमीटर, एनएच-552 मुरैना- अम्बाह बायपास 21 किलोमीटर, खिलचीपुर बायपास 5.50 किलोमीटर, पचौर-शुजालपुर-आष्टा बायपास 19 किलोमीटर, पोरसा-अटेर-प्रतापपुरा से भिंड बायपास 20 किलोमीटर, मिहोना-लहार-दवोह-भांडेर बायपास 19 किलोमीटर, बीरोरा बायपास 3 किलोमीटर, छतरपुर बायपास 15 किलोमीटर, हरपालपुर बायपास 10 किलोमीटर तथा श्यामपुर से सबलगढ़ तक 70 किलोमीटर मार्ग पर भू-अर्जन के लिए 526 करोड़ रूपये का प्रावधान किया गयाहै।

33 करोड़ रूपये की लागत से बनाये जाएंगे तीन पुल

एनएच-346 पर विदिशा से मैलुआ मार्ग पर 3 छोटे पुलों का निर्माण कराया जायेगा। इसके लिए 33 करोड़ रूपये का प्रावधान किया गया है।

125 करोड़ रूपये से 7 राष्ट्रीय राजमार्गों का सुदृढ़ीकरण

स्वीकृत कार्ययोजना के अंर्तगत खलघाट-कसरावद-खरगौन-बिस्ठान रोड पर 4 किलोमीटर, टीकमगढ़-पृथ्वीपुर से ओरछा मार्ग पर 41 किलोमीटर, शहगढ़ से टीकमगढ़ रोड़ पर 36 किलोमीटर, इंदौर से बैतूल रोड़ पर 47 किलोमीटर, बालाघाट-नैनपुर रोड पर 4 किलोमीटर, बैतूल से आशापुर रोड़ पर 4 किलोमीटर तथा दौलखेड़ी चौराहा- मैलुआ चौराहा- कुरवाई रोड पर 60 किलोमीटर सड़कों का सुदृढ़ीकरण किया जायेगा।

इसके साथ ही 6 राष्ट्रीय राजमार्गों के 194 किलोमीटर की डीपीआर तैयार करने के लिए 6 करोड़ रूपये तथा 22 राष्ट्रीय राजमार्गों के 112 किलोमीटर क्षेत्र में विभिन्न कार्यों के लिए 200 करोड़ रूपये की स्वीकृति प्रदान कि गई है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Latest Post

दस्तक अभियान में प्लानिंग और प्रशिक्षण पर दें पर्याप्त ध्यान : स्वास्थ्य आयुक्त

मध्य-प्रदेश ; दस्तक अभियान के पहले कार्य-योजना तैयार करने और अभियान से जुड़े अमले को प्रशिक्षण देने पर पर्याप्त ध्यान दिया जाये। दस्तक अभियान की...

हरिद्वार में कांवड़ यात्रा के लिए स्वास्थ्य विभाग ने बनाई कार्ययोजना, यात्रियों के लिए 18 स्थानों पर बनाए जांएगे स्वास्थ्य केंद्र

हरिद्वार।  कांवड़ मेले में आने वाले शिवभक्तों को स्वास्थ्य सेवाएं देने के लिए स्वास्थ्य विभाग ने कार्ययोजना बनानी शुरू कर दी है। सीएमओ ने कांवड़...

अभी तक श्री बदरीनाथ नौ लाख पंद्रह हजार, केदारनाथ आठ लाख सैंतालीस हजार , गंगोत्री पहुंचे चार लाख सैंतीस हजार तथा यमुनोत्री पहुंचे तीन...

देहरादून।  चारधाम यात्रा में श्रद्धालुओं का सैलाब उमड़ा है आज तक 25 लाख 38 हजार दो सौ सत्तासी तीर्थयात्री उत्तराखंड चारधाम दर्शन हेतु पहुंच गये...

मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने की भगवान श्री तिरुपति बालाजी मन्दिर में पूजा- अर्चना

  उत्तराखंड  देहरादून।   मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामीआंध्र प्रदेश के दौरे पर पहुंचे हुए है, इस दौरान सीएम ने आज तिरुमाला पर्वत पर स्थित भगवान...

44वें शतरंज ओलिंपियाड की मशाल पहुँची भोपाल, खेल मंत्री श्रीमती सिंधिया को ग्रैंड मास्टर अनुराग महामल ने सौंपी टॉर्च

मध्य-प्रदेश ; प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा 19 जून को रवाना की गई 44वें शतरंज ओलिंपियाड की मशाल रिले 4 जुलाई सोमवार को भोपाल पहुँची। ग्रैंड...

गोट वैली विलेज मुख्यमंत्री घसियारी कल्याण योजना और एम्पेक्स कंप्यूटराइजेशन में तेजी लाने को सचिव सहकारिता ने दिए निर्देश

 देहरादून केंद्रीय मंत्रिमंडल ने 63,000 पैक्स समितियों के कंप्यूटरीकरण के लिए 2,516 करोड़ रुपये की राशि मंजूर की है। प्रधानमंत्री की अध्यक्षता में हुई मंत्रिमंडल...

एकनाथ शिंद ने साबित किया बहुमत, फडणवीस बोले हां, महाराष्ट्र में ईडी की सरकार है, विपक्ष को समझाया ईडी का मतलब

महाराष्ट्र। महाराष्ट्र विधानसभा में आज एकनाथ शिंदे नीत भाजपा शिवसेना के बागी गुट की सरकार ने बहुमत साबित कर दिया। विश्वास प्रस्ताव पर चर्चा...