Home मध्यप्रदेश मध्य प्रदेश, मुख्यमंत्री चौहान : ऐसी रणनीति बनाएँ कि कहीं भी...

मध्य प्रदेश, मुख्यमंत्री चौहान : ऐसी रणनीति बनाएँ कि कहीं भी संक्रमण बढ़े नहीं

मध्य प्रदेश, भोपाल :

अनलॉक प्रक्रिया में पाँच बातों का पूरा ध्यान रखें
मुख्यमंत्री श्री चौहान ने प्रदेश में कोरोना की स्थिति एवं व्यवस्थाओं की समीक्षा की

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि प्रदेश के न्यूनतम संक्रमण वाले पाँच ज़िलों बुरहानपुर, खंडवा, झाबुआ, अलीराजपुर तथा भिंड में आंशिक अनलॉक किया गया है। बाकी जिलों में भी चरणबद्ध तरीके से अनलॉक की प्रक्रिया आगामी एक जून से प्रारंभ होगी। हमें इस बात का पूरा ध्यान रखना है कि कहीं भी संक्रमण बढ़े नहीं तथा उस अनुरूप अपनी रणनीति बनानी है।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने निर्देश दिए कि ‘अनलॉक’ प्रक्रिया में पाँच बातों का पूरा ध्यान रखें। शत-प्रतिशत व्यक्ति मास्क लगायें। अधिक से अधिक टेस्ट कराये जायें। किल-कोरोना अभियान जारी रहे तथा सर्दी, खाँसी, बुखार के हर मरीज की पहचान कर तुरंत उपचार कराया जाये। कोरोना की लड़ाई जन-भागीदारी से लड़ी जाये एवं स्थानीय क्राइसिस मैनेजमेंट समूह अपने ग्राम, कस्बे, शहर के संबंध में निर्णय लें। हर व्यक्ति अनिवार्य रूप से कोरोना अनुरूप व्यवहार करे।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने आज मंत्रालय में वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से प्रदेश में कोरोना की स्थिति  एवं व्यवस्थाओं की समीक्षा की। बैठक में चिकित्सा शिक्षा मंत्री श्री विश्वास सारंग, स्वास्थ्य मंत्री डॉ. प्रभुराम चौधरी, मुख्य सचिव श्री इकबाल सिंह बैंस, अपर मुख्य सचिव स्वास्थ्य श्री मोहम्मद सुलेमान और स्वास्थ्य आयुक्त श्री आकाश त्रिपाठी आदि उपस्थित थे।

2422 नए प्रकरण

प्रदेश में कोरोना के 2422 नए प्रकरण आये हैं। गत 24 घंटों में 7373 मरीज स्वस्थ हुए हैं। एक्टिव मरीजों की संख्या 48 हजार 634 है। प्रदेश में सात दिनों का पॉजिटिविटी रेट 5% तथा आज का पॉजिटिविटी रेट 3.4% है।

अब तीन जिलों में ही 100 से अधिक प्रकरण

प्रदेश के तीन जिलों में ही अब 100 से अधिक नए कोरोना प्रकरण हैं। इंदौर में 648, भोपाल में 529 तथा ग्वालियर में 115 नए प्रकरण हैं। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने इंदौर तथा भोपाल में अभी भी इतने प्रकरण आने के कारणों की विस्तृत समीक्षा करने तथा उसके अनुसार  संक्रमण समाप्ति के कार्य मुस्तैदी से करने के निर्देश दिये। जबलपुर में भीड़ जुटने के मामले को गंभीरता से लेते हुए मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहीं भी ऐसी पुनरावृत्ति न हो, यह सुनिश्चित करने के निर्देश दिये।

इंजेक्शन मिलने में विलंब न हो

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने निर्देश दिये कि प्रदेश में ब्लैक फंगस के उपचार के लिये ‘एंफोटेरीसिन बी’ इंजेक्शन मँगाने में बिलकुल भी विलंब न हो, यह सुनिश्चित करें। हवाई मार्ग से इंजेक्शन तुरंत मँगाए जायें।

सभी 52 जिलों में 10% से कम संक्रमण

प्रदेश के सभी 52 जिलों में संक्रमण अब 10% नीचे आ गया है। मात्र 7 जिलों इंदौर, भोपाल,  सागर,  रतलाम, रीवा,  अनूपपुर तथा सीधी में ही साप्ताहिक पॉजिटिविटी रेट 5% से अधिक है। प्रदेश के शेष 45 जिलों में संक्रमण 5% या उससे कम है।

15 हजार 870 मरीजों का नि:शुल्क इलाज

प्रदेश में 15 हजार 870 कोरोना मरीजों का नि:शुल्क इलाज किया जा रहा है। इनमें से 8814 मरीजों का शासकीय अस्पतालों में, 1270 मरीजों का अनुबंधित अस्पतालों में तथा 5786 मरीजों का मुख्यमंत्री कोविड उपचार योजना के अंतर्गत सम्बद्ध अस्पतालों में इलाज किया जा रहा है। कोविड उपचार योजना में आज की स्थिति में 9 करोड़ 5 लाख 43 हजार रूपये व्यय किया गया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Latest Post

5

4

4

3

1

मुख्यमंत्री चौहान से की निवेशकों ने भेंट, प्रदेश में 7,775 करोड़ के नवीन निवेश से मिलेगा 5,350 लोगों को रोजगार

मध्यप्रदेश; मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान से आज निवास पर समत्व भवन में विभिन्न निवेशकों ने भेंट कर निवेश प्रस्तावों की जानकारी दी। मुख्यमंत्री चौहान ने...

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान द्वारा छीपानेर में नव-निर्मित पहुँच मार्ग और पुल का आकस्मिक निरीक्षण

दिसम्बर अंत तक पूर्ण करें पहुँच मार्ग 5 जनवरी को पहुँच मार्ग और पुल का होगा लोकार्पण  मध्य-प्रदेश : मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने सोमवार को सीहोर...

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान सपत्नीक “अनुगूंज कार्यक्रम में शामिल हुए

 मध्य-प्रदेश :- मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि विद्यार्थियों की स्वाभाविक प्रतिभा को प्रकट करना शिक्षा का उद्देश्य और शिक्षकों का धर्म है।...

गीता जयंती के उपलक्ष्य में कैबिनेट मंत्री डॉ प्रेमचंद अग्रवाल ने श्रीराम तपस्थली में आयोजित तीन दिवसीय कार्यक्रम में भाग लिया।

उत्तराखंड, Rishikesh : गीता जयंती के उपलक्ष्य में कैबिनेट मंत्री डॉ प्रेमचंद अग्रवाल ने श्रीराम तपस्थली में आयोजित तीन दिवसीय कार्यक्रम में भाग लिया। इस...

देवप्रयाग में अलकनंदा झूला पुल पर आवाजाही पूरी तरह से बंद

उत्तराखंड, नई टिहरी।  राजशाही के जमाने में बने अलकनंदा झूला पुल को प्रशासन और भारी पुलिस बल की मौजूदगी आखिरकार लोगों की आवाजाही के लिये...