Friday, July 1, 2022
Home मध्यप्रदेश मध्य प्रदेश, मुख्यमंत्री शिवराज : महिलाओं एवं बच्चों के विरूद्ध अपराध करने...

मध्य प्रदेश, मुख्यमंत्री शिवराज : महिलाओं एवं बच्चों के विरूद्ध अपराध करने वालों को मिले कड़ी सजा

मध्य प्रदेश, भोपाल :

6 माह में 5205 अपहृत बालिकाओं को वापस घर पहुँचाया गया
मुख्यमंत्री श्री चौहान ने महिलाओं एवं बच्चों के प्रति अपराधों में कार्रवाई की समीक्षा की

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि प्रदेश में महिलाओं एवं बच्चों के विरूद्ध अपराध करने वालों को कड़ी सजा मिले, इसके लिए ऐसे प्रकरणों में न्यायालयों में शासन का पक्ष मजबूती से रखा जाए।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि प्रदेश में गत 6 महीनों में अपहृत 5205 बालिकाओं को उनके घर वापस पहुँचाया गया है, जो कि कुल अपहृत 8566 बालिकाओं का 60.8% है। उन्होंने निर्देश दिए कि प्रत्येक बालिका को ढूंढ़कर सही सलामत उसके घर पहुँचाया जाए।

मुख्यमंत्री श्री चौहान आज मंत्रालय में प्रदेश में महिला एवं बच्चों के विरूद्ध अपराध तथा घरेलू हिंसा के प्रकरणों में की गई कार्रवाई की समीक्षा कर रहे थे। बैठक में गृह मंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्रा, मुख्य सचिव श्री इकबाल सिंह बैंस, पुलिस महानिदेशक श्री विवेक जौहरी, अपर मुख्य सचिव गृह श्री राजेश राजौरा आदि उपस्थित थे।

18 प्रकरणों में मृत्यु दंड की सजा यथावत

बताया गया कि प्रदेश में महिलाओं के विरुद्ध अपराधों के 18 प्रकरणों में न्यायालय द्वारा दी गई मृत्यु दंड की सजा को उच्च न्यायालय द्वारा यथावत रखा गया है। अब प्रकरण सर्वोच्च न्यायालय में हैं। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने निर्देश दिए कि सर्वोच्च न्यायालय में प्रकरणों में शासन का पक्ष मजबूती से रखा जाए।

महिला पुलिस वॉलेंटियर योजना

केन्द्र सरकार द्वारा महिला पुलिस वॉलेंटियर योजना के संचालन के लिए प्रदेश के 2 जिलें मुरैना एवं विदिशा का चयन किया गया है। योजना के अंतर्गत प्रत्येक गाँव, वार्ड में एक महिला पुलिस वॉलेंटियर बनाई जाएगी, जो महिलाओं के विरूद्ध अपराध के संबंध में कार्रवाई में सहायता करेगी। उन्हें एक हजार रूपए प्रतिमाह मानदेय दिया जाएगा।

महिला अपराध शाखा का नाम अब महिला सुरक्षा शाखा

पुलिस की महिला अपराधा शाखा का नाम बदलकर महिला सुरक्षा शाखा किए जाने का निर्णय बैठक में लिया गया।

700 थानों में महिला डेस्क

प्रदेश के 700 थानों में महिलाओं की सहायता के लिए ऊर्जा महिला हेल्प डेस्क संचालित की जा रही हैं। इनके माध्यम से महिला अपराधों के प्रकरणों में महिलाओं को राहत एवं सहायता पहुँचाई जा रही है। घरेलू उत्पीड़न के प्रकरणों में आवश्यक काउंसलिंग भी की जा रही है।

रोजगार के लिए प्रतिमाह अभियान चलाएँ

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि अपराधों का एक कारण बेरोजगारी भी है। प्रदेश में प्रतिमाह हर जिले में रोजगार अभियान चलाया जाए, जिसके माध्यम से अधिक से अधिक युवाओं को रोजगार दिलवाया जाए।

पुलिस के रिक्त पदों पर शीघ्र भर्ती

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने निर्देश दिए कि पुलिस विभाग में रिक्त पदों पर शीघ्र भर्ती की जाए। पुलिस महानिदेशक श्री जौहरी ने बताया कि प्रदेश में पुलिस जवानों के 18 हजार पद रिक्त हैं, जिनकी भर्ती की प्रक्रिया शीघ्र प्रारंभ की जाएगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Latest Post

21

20

19

मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने सरकार के 100 दिन पूरे होने के अवसर पर 100 दिन विकास के, समर्पण और प्रयास के , पुस्तक...

 उत्तराखंड, देहरादून :- मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने गुरुवार को मुख्य सेवक सदन, मुख्यमंत्री आवास, देहरादून में सरकार के 100 दिन पूर्ण होने के अवसर...

मुख्य सचिव डॉ. एस. एस. संधु ने विभागों द्वारा आयोग को भेजी जाने वाली रिक्तियों के अधियाचन के सम्बन्ध में बैठक ली।

 उत्तराखंड, देहरादून मुख्य सचिव डॉ. एस. एस. संधु ने गुरुवार को सचिवालय में विभागों द्वारा आयोग को भेजी जाने वाली रिक्तियों के अधियाचन के सम्बन्ध...

मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने ‘हमारो पहाड़’ धारावाहिक के टाइटल सॉग का किया लोकार्पण।

 उत्तराखंड, देहरादून ; मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने गुरूवार को मुख्यमंत्री कैम्प कार्यालय में सरकार के 100 दिन पूर्ण होने के अवसर पर ‘ सर्वश्रेष्ठ...

15

14

मुख्यमंत्री ने प्रधानमंत्री आवास योजना ( ग्रामीण ) के तहत देहरादून जनपद के 51 लाभार्थियों को सौंपी चेक एवं चाबी।

 उत्तराखंड, देहरादून ; मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने गुरूवार को सरकार के 100 दिन पूर्ण होने पर मुख्यमंत्री आवास स्थित मुख्य सेवक सदन में ग्राम्य...

12