Home मध्यप्रदेश मध्य प्रदेश, कोरोना काल में आयुष औषधियों के उपयोग में हुई वृद्धि

मध्य प्रदेश, कोरोना काल में आयुष औषधियों के उपयोग में हुई वृद्धि

मध्य प्रदेश, भोपाल

कोरोना काल में आयुष औषधियों का उपयोग बढ़ा है। आयुर्वेद औषधियों के मार्केट में वर्ष 2020 में गत वर्ष की तुलना में दो से तीन गुना वृद्धि देखी गयी है। लोगों की इम्यूनिटी बढ़ाने में आयुष औषधियाँ सहायक सिद्ध हुई हैं। भारत सरकार के आयुष विभाग के सचिव वैद्य श्री राजेश कोटेचा ने यह बात अटल बिहारी वाजपेयी सुशासन एवं नीति विश्लेषण संस्थान में “असरदार परिवर्तन-टिकाऊ परिणाम” व्याख्यान-माला में “अपारचुनिटीज इन आयुष सेक्टर इमरज्ड आउट ऑफ कोविड-19 पेंडेमिक” विषय पर विचार व्यक्त करते हुए कही।

आयुष फार्मा कम्पनियों के प्रतिनिधियों से चर्चा

भारत सरकार के आयुष सचिव वैद्य श्री राजेश कोटेचा ने सुशासन संस्थान में विभिन्न आयुष फार्मा कम्पनी के प्रतिनिधियों से चर्चा की। प्रतिनिधियों ने मध्यप्रदेश में आयुष कम्पनियों के विस्तार, आयुष उत्पादों के प्रचार-प्रसार में आने वाली समस्याओं सहित अन्य मुद्दों की जानकारी दी। श्री कोचेचा ने समस्याओं के निराकरण एवं फार्मा कम्पनियों के क्षमता वृद्धि का आश्वासन दिया।

कोटेचा ने कहा कि आयुष प्रोडक्ट के निर्माण में तेजी लाने के उद्देश्य से एप्रूवल, लायसेंस नवीनीकरण की प्रक्रिया तेज की गयी है। वृहद स्तर पर औषधीय पौधे लगाने की योजना क्रियान्वित की जा रही है, इससे औषधि निर्माताओं की माँग को पूरा किया जा सकेगा।

आयुष-64 कोविड उपचार में लाभकारी

वैद्य श्री कोटेचा ने कहा कि आयुष-64 दवा माइल्ड और मॉडरेट कोरोना में लाभकारी सिद्ध हुई है। इसके साथ ही आयुष काढ़ा, अश्वगंधा तथा गुड़ची-पीपली कोरोना को रोकने में उपयोगी रही है।

हेल्पलाइन नं. 14443

आयुष मंत्रालय द्वारा हेल्पलाइन नं. 14443 जारी किया गया है। इसके माध्यम से विशेषज्ञों द्वारा मरीजों की काउंसलिंग की गयी। आयुष किट का वितरण किया गया। मध्यप्रदेश में त्रिकटु चूर्ण का नि:शुल्क वितरण किया गया था।

कोविड-19 रिसर्च

श्री कोटेचा ने कहा कि सीएसआईआर, आईसीएमआर, मध्यप्रदेश सरकार सहित अन्य संस्थाओं के साथ मिलकर कोविड-19 पर रिसर्च किया गया। इसके आधार पर प्रोटोकॉल भी जारी किये गये। आयुष संजीवनी एप के माध्यम से लोगों का फीडबेक लिया गया। सात लाख से अधिक लोगों ने फीडबेक दिया।

मध्यप्रदेश में कोरोना के उपचार में आयुष औषधियों का व्यापक प्रचार-प्रसार किया गया। लोगों ने इसे अपनाया भी। प्रदेश में ‘वैद्य आपके द्वार’ अभियान चलाया जा रहा है। मध्यप्रदेश आयुर्वेद प्रेक्टिशनर उपलब्धता में देश में तीसरे नम्बर पर है। इस वर्ष 13 हजार से अधिक मेडिकल कैम्प आयोजित किये गये। संस्थान के उपाध्यक्ष प्रो. सचिन चतुर्वेदी ने कहा कि आयुष के क्षेत्र में बेहतर काम हो रहा है। उन्होंने कहा कि मध्यप्रदेश में औषधियों के निर्माण के लिये उपयोगी सामग्री पर्याप्त मात्रा में उपलब्ध है। इनके सुनियोजित उपयोग की आवश्यकता है। इसके लिये एक नीति बनाने की जरूरत है।

इस दौरान प्रमुख सचिव आयुष श्रीमती करलिन खोंगवार देशमुख, प्रमुख सचिव वन श्री अशोक वर्णवाल, जन-अभियान परिषद के महानिदेशक श्री बी.आर. नायडू, संस्थान की सीईओ श्रीमती जी.व्ही. रश्मि और संचालक श्री गिरीश शर्मा एवं एडवाइजर उपस्थित थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Latest Post

मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने जनपद टिहरी क्षेत्रान्तर्गत परोगी(अगलाड़) थत्यूड़ में विभिन्न विकास योजनाओं का किया लोकार्पण एवं शिलान्यास।

देहरादून; मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने सोमवार को जनपद टिहरी क्षेत्रान्तर्गत परोगी(अगलाड़) थत्यूड़ में विभिन्न विकास योजनाओं का लोकार्पण एवं शिलान्यास किया। उन्होंने अठजूला क्रीड़ा...

गौचर व चिन्यालीसौड़ के लिए जल्द शुरू होगी हवाई सेवा

उत्तराखंड / नई दिल्ली ; उड़ान योजना के अगले टेंडर में शामिल की जाएगी गौचर व चिन्यालीसौड़ की हवाई सेवा पिथौरागढ़ से फिक्स्ड विंग...

राष्ट्र के प्रति समर्पित नागरिकों का निर्माण करती है एनसीसी : राज्यपाल मंगुभाई पटेल

एनसीसी स्थापना दिवस पर साइकिलिस्ट का किया स्वागत मध्यप्रदेश ; राज्यपाल मंगुभाई पटेल ने कहा है कि एनसीसी दुनिया का सबसे बड़ा वर्दीधारी युवा संगठन है।...

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने अशोक, कचनार और गूलर के पौधे लगाए

मध्यप्रदेश; मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने स्मार्ट सिटी उद्यान में रायसेन की उड़ान वेलफेयर सोसाइटी के सदस्यों के साथ अशोक, कचनार और गूलर के पौधे...

VIP ड्यूटी से मुक्त होंगे SDM, मुख्य सचिव ने दिए निर्देश, प्रोटोकॉल अफसर किए जाएंगे तैनात

देहरादून ; जिलाधिकारी और उपजिलाधिकारी वीआईपी ड्यूटी में व्यस्त रहने के कारण अपने मूल काम को समय नहीं दे पाते हैं। हालत यह है कि...

भ्रष्टाचार कोढ़ है, इसे पूरी तरह समाप्त करना जरूरी : मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान

सुशासन के लिए जन-प्रतिनिधि, अधिकारी-कर्मचारी टीम भावना और दृढ़ इच्छाशक्ति के साथ कार्य करें प्रभारी मंत्री प्रति माह जिले में संचालित योजनाओं, विकास कार्यों और...

पर्यटन विभाग ने की चारधाम यात्रा का संचालन नए चारधाम यात्रा बस ट्रांजिट कैंप से करने की तैयारी

उत्तराखंड, ऋषिकेश  पर्यटन विभाग ने अगले वर्ष से चारधाम यात्रा का संचालन नए चारधाम यात्रा बस ट्रांजिट कैंप से किए जाने की तैयारी कर ली...

सूचना, महानिदेशक वंशीधर तिवारी : सूचना एवं लोकसम्पर्क विभाग तथा पत्रकार एक दूसरे से जुड़े हैं।

उत्तराखंड, काशीपुर  मीडिया सेन्टर ने सम्मान एवं परिचर्चा कार्यक्रम में सूचना विभाग के महानिदेशक वंशीधर तिवारी का स्वागत किया। मीडिया सेंटर ने प्रेस क्लब को...

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने वरिष्ठ पत्रकार स्व. राजकुमार केसवानी की जयंती पर पौध-रोपण किया

मध्यप्रदेश, Bhopal ; मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने प्रसिद्ध पत्रकार तथा लेखक स्व. श्री राजकुमार केसवानी की जयंती पर उनके परिजन और परिचितों के साथ...

मुख्य सचिव डॉ. एस.एस. संधु ने राजस्व वादों की समीक्षा बैठक के दौरान राजस्व वादों के तेजी से निस्तारण के दिए निर्देश।

उत्तराखंड, देहरादून ; मुख्य सचिव डॉ. एस.एस. संधु ने शुक्रवार को सचिवालय में राजस्व वादों की समीक्षा बैठक के दौरान राजस्व वादों के तेजी से...