Home मध्यप्रदेश आत्म अवलोकन करते हुए स्वयं को बेहतर इंसान बनाने का करें सतत...

आत्म अवलोकन करते हुए स्वयं को बेहतर इंसान बनाने का करें सतत प्रयास – राज्यपाल पटेल

भोपाल :–

राज्यपाल पटेल ने किया केंद्रीय जेल इंदौर का भ्रमण
बंदियों के जीवन को बेहतर बनाने के लिए निरंतर प्रयासरत है राज्य शासन

राज्यपाल मंगुभाई पटेल ने कहा कि सार्थक जीवन वही है जो मानवता की सेवा में खुद को न्योछावर कर दे। स्वामी विवेकानंद ने कहा था केवल अपने लिए ही नहीं, बल्कि दूसरों के कल्याण के लिए जिए। इसी ध्येय को अपने अंदर समाहित करते हुए जेल में रह रहे बंदी आत्म अवलोकन करें और स्वयं को बेहतर इंसान बनाने का सतत प्रयास करें। देश और समाज के प्रति जिम्मेदारी का निर्वहन करते हुए जीवन को सार्थक बनाएँ। जो मनुष्य अपना जीवन दूसरों के लिए समर्पित करता है, कुदरत भी हमेशा उसकी सहायता करती है। राज्यपाल श्री पटेल ने केन्द्रीय जेल इंदौर में बंदियों को संबोधित किया। उन्होंने बंदियों का मनोबल बढ़ाते हुए हौसला अफजाई की। इंदौर प्रवास के दूसरे दिन केंद्रीय जेल इंदौर पहुंचकर जेल परिसर का भ्रमण किया।

मानवीय दृष्टिकोण से बंदियों को दी जा रही हैं सभी सुविधाएँ

राज्यपाल पटेल ने कहा कि उन्होंने जेल परिसर के भ्रमण के दौरान पाया कि बंदियों की सुविधा के लिए जेल में सभी प्रकार के संसाधन उपलब्ध हैं। जेल परिसर में ई-मुलाकात सेवा, दूरभाष सेवा तथा बंदियों को चिकित्सा सेवा भी प्रदान की जा रही है। जन-भागीदारी से जेल में बंदियों को जीवन-यापन करने के लिए अनेक प्रकार के कौशल प्रशिक्षण भी दिए जा रहे हैं। मानवता की दृष्टि से जो सुविधा बंदियों को मिलनी चाहिए वह इस जेल परिसर में दी जा रही है। राज्यपाल पटेल ने कहा कि राज्य शासन बंदियों के जीवन को बेहतर बनाने के लिए लगातार प्रयासरत है। इसी दिशा में आवश्यकता अनुसार बंदियों को शत-प्रतिशत विधिक सेवा प्रदान करने का प्रयास किया जा रहा है। प्रदेश की सभी जेलों  को  वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से न्यायालय से जोड़ा जा रहा है, जिससे बंदियों के न्यायालयीन प्रकरणों का शीघ्र निराकरण किया जा सके। राज्यपाल पटेल ने कहा कि जेल में रह रहे बंदियों को अच्छा साहित्य पढ़ने के लिए प्रोत्साहित किया जाए, जिससे बंदी होने के उपरांत भी यहाँ रह रहे लोग अपने जीवन को आनंदमय बना सकेंगे। इसी के साथ ही योग से उनके शारीरिक और मानसिक स्वास्थ्य का पूरा ध्यान दिया जाए, इसके लिए भी नियमित योग शिविर आयोजित किए जाएँ। उन्होंने जेल में रह रहे बंदियों से कहा कि जेल परिसर में आपको जो भी सीखने को मिल रहा है उससे जीवन को और अधिक उपयोगी बनाने में सहायता मिलेगी और आचरण में सुधार आ सकेगा।

सांसद शंकर लालवानी ने कहा कि मध्य प्रदेश के राज्यपाल श्री पटेल की संवेदनशीलता का प्रत्यक्ष उदाहरण है कि वे आज केंद्रीय जेल का भ्रमण कर रहे हैं। इंदौर की केंद्रीय जेल का इतिहास अपने आप में गौरवशाली है, यहाँ आजादी के आंदोलन में भाग लेने वाले स्वतंत्रता संग्राम सेनानियों से लेकर इमरजेंसी के समय में मीसा बंदियों को भी रखा गया था। इस जेल में समय-समय पर बंदियों के जीवन को और बेहतर बनाने के लिए तरह-तरह के नवाचार होते रहे हैं। बंदियों के लिए जितनी सुविधा संभव है वह जेल प्रशासन द्वारा प्रदान की जा रही है। इंदौर केंद्रीय जेल ही एकमात्र ऐसी जेल है, जहाँ बंदियों द्वारा बर्तनों का निर्माण किया जा रहा है । यहाँ जन-भागीदारी के माध्यम से सभी को आत्म-निर्भर बनाने की दिशा में नित नए प्रयास किए जा रहे हैं। केंद्रीय जेल में कोरोना वायरस संक्रमण के दौरान कोरोना गाइड-लाइन का पूर्णत: पालन किया गया, जिसका नतीजा यह रहा कि कोरोना वायरस का न्यूनतम प्रभाव जेल में रह रहे बंदियों पर पड़ा। उन्होंने कहा कि इंदौर में एक और सर्व-सुविधायुक्त बड़ी केंद्रीय जेल का निर्माण किया जा रहा है जो जल्द ही तैयार हो जायेगी।

राज्यपाल पटेल ने जेल परिसर में बंदियों द्वारा निर्मित किए गए कान्हा विक्रय केंद्र का अवलोकन किया। उन्होंने ई-रिक्शा में बैठकर संपूर्ण जेल परिसर का भ्रमण किया तथा बंदियों द्वारा संचालित किए जा रहे जेल वाणी एफएम 18.77 को सुना एवं जेल प्रशासन द्वारा किए जा रहे  इन प्रयासों की सराहना की। राज्यपाल श्री पटेल ने जेल परिसर में बेलपत्र का वृक्षारोपण भी किया। केंद्रीय जेल इंदौर में आयोजित कार्यक्रम के दौरान बंदियों द्वारा विभिन्न प्रकार के सांस्कृतिक एवं मलखम्ब खेल की प्रस्तुति दी गई। इस दौरान जेल के बंदी द्वारा निर्मित की गई माँ अहिल्या देवी के चित्र को राज्यपाल श्री पटेल को भेंट भी किया गया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Latest Post

जन्म-भूमि का कर्ज उतारना हम सबका कर्त्तव्य : मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान

अपने गाँव, अपनी माटी को न भूलें, वर्ष में एक बार जरूर जाये आज मैं जो कुछ हूँ माँ नर्मदा और अपने गाँव जैत की...

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान सपत्नीक नर्मदा जयंती एवं नर्मदापुरम के गौरव दिवस समारोह में हुए शामिल, कहा लाड़ली लक्ष्मी योजना-2 के बाद अब लाड़ली...

महिलाओं को हर साल राज्य सरकार देगी 12 हजार रूपये योजना पर 5 वर्षों में अनुमानित 60 हजार करोड़ रूपये खर्च होंगे श्रीमहाकाल लोक की तरह...

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने नर्मदा जयंती पर किया पौध-रोपण

मध्य-प्रदेश ; मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने आज नर्मदा जयंती पर नागरिकों की उपस्थिति में श्यामला हिल्स स्थित स्मार्ट उद्यान (वाटर विजन पार्क) में बरगद,...

मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी से महानगर भाजपा के प्रतिनिधियों ने भाजपा महानगर अध्यक्ष सिद्धार्थ अग्रवाल के नेतृत्व में की भेंट । ,

उत्तराखंड मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी से शनिवार को मुख्यमंत्री आवास स्थित कैम्प कार्यालय में महानगर भाजपा के प्रतिनिधियों ने भाजपा महानगर अध्यक्ष श्री सिद्धार्थ अग्रवाल...

ग्राम पंचायत विकास अधिकारी एसोसिएशन ने किया महाराज का स्वागत

फंक्शनल मर्जर रुकवाने के लिए पंचायत मंत्री व मुख्यमंत्री का किया आभार व्यक्त देहरादून। फंक्शनल मर्जर रुकवाने के लिए ग्राम पंचायत विकास अधिकारी एसोसिएशन ने...

मार्गों के नवनिर्माण में नवीनतम तकनीक का प्रयोग करें : मंत्री सतपाल महाराज

चारधाम यात्रा तैयारियों को लेकर लोनिवि की समीक्षा बैठक देहरादून। चारधाम यात्रा को देखते हुए लोक निर्माण विभाग के सभी अधिकारियों और जिलाधिकारियों को निर्देश दिए...

रंत रैबार संस्था का करियर काउंसलिंग कार्यक्रम : विद्यार्थियों को मिला मार्गदर्शन, हर क्षेत्र से जुड़े स्कोप के बारे में बताया गया

यमकेश्वर। यमकेश्वर विधानसभा के जनता इण्टर कॉलेज किमसार के सभागार में बच्चों के उज्ज्वल भविष्य एवं मार्गदर्शन के लिए करियर गाइडेंस व काउंसलिग कार्यक्रम हुआ।...

सोशल मीडिया प्लेटफार्म ने कम्युनिकेशन में ला दी है नई क्रान्ति – मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान

मुख्यमंत्री ने नेशलिस्ट सोशल मीडिया कॉन्क्लेव का शुभारम्भ किया मध्य-प्रदेश,  मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि पहले अखबार और टीवी प्रमुखता से मीडिया में...

बाबा रामदेव बोले – पाकिस्तान के बहुत जल्दी होंगे 4 टुकड़े होंगे, पीओके और पंजाब अलग राष्ट्र बनेंगे, पीओके का भी भारत में होगा...

हरिद्वार। योग गुरु बाबा रामदेव ने कहा है कि बहुत जल्द पाकिस्तान के चार टुकड़े होंगे और वह विश्व के नक्शे पर अस्तित्व विहीन हो...

नवनियुक्त आरक्षक वर्दी की मर्यादा को कभी न भूलें- मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान

म.प्र. पुलिस का चेहरा संवेदनशीलता, वीरता, देश भक्ति और अनुशासन का गर्व और गौरव के साथ मध्यप्रदेश पुलिस की साख को बनाएँ मुख्यमंत्री ने 6 हजार...