Tuesday, July 5, 2022
Home उत्तर प्रदेश उत्तरप्रदेश : माफिया मुख्तार अंसारी के गिरोह पर कसा शिकंजा, अब...

उत्तरप्रदेश : माफिया मुख्तार अंसारी के गिरोह पर कसा शिकंजा, अब तक 192 करोड़ रुपये की संपत्ति जमींदोज

यूपी पुलिस (UP Police) आंकड़ों के अनुसार मुख्तार के परिवारीजन व करीबियों के अब तक 94 शस्त्र लाइसेंस निरस्त कराए गए हैं.

लखनऊ.

उत्तर प्रदेश की योगी सरकार (Yogi Government) लगातार प्रदेश के माफियाओं के खिलाफ कार्रवाई कर रही है. इसी कड़ी में यूपी सरकार ने मुख्तार अंसारी (Mafia Mukhtar Ansari) व उसके सहयोगियों के कब्जे से अब तक 192 करोड़ रुपये से अधिक की सरकारी जमीन मुक्त कराने के साथ ही अवैध निर्माण जमींदोज किया जा चुका हैं. इससे पहले मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने ऐलान किया था कि मुख्तार के काले-साम्राज्य के अंत का समय आ गया है. योगी आदित्यनाथ ऑफिस के आधिकारिक टि्वटर हैंडल से ये जानकारी दी गई थी. बता दें कि माफिया मुख्तार अंसारी वर्तमान समय मे रूपनगर मोहाली (पंजाब) जेल में बंद है.

यूपी पुलिस ने गैंगेस्टर एक्ट के तहत माफिया मुख्तार अंसारी और उसके गुर्गों की अवैध संपत्तियों को जब्त करने का सिलसिला जारी रखा है. इसी कड़ी में अवैध बूचड़खाना पर शिकंजा कसकर इस गिरोह की सालाना करीब 2.5 करोड़ रुपये की कमाई बंद कराई गई. मऊ, वाराणसी, भदोही, जौनपुर व चंदौली में मुख्तार के संरक्षण में पनप रहे अवैध मछली कारोबार की कमर तोड़ी गई. मछली के इस कारोबार से गिरोह को सालाना करीब 33 करोड़ रुपये की आमदनी होती थी.

यूपी पुलिस आंकड़ों के अनुसार मुख्तार के परिवारीजन व करीबियों के अब तक 94 शस्त्र लाइसेंस निरस्त कराए गए हैं. इनमें गाजीपुर से बने 84 व आजमगढ़ से बने 10 शस्त्र लाइसेंस शामिल हैं. 71 शस्त्रों को जमा भी कराया गया है, जबकि गलत नाम-पतों पर बने चार शस्त्र लाइसेंस निरस्त कराकर तीन आरोपितों को गिरफ्तार भी किया गया. मुख्तार गिरोह के कई शूटरों व उससे जुड़े ठेकेदारों के विरुद्ध भी कानूनी कार्रवाई के कदम लगातार बढ़ रहे हैं.

मुख्तार अंसारी का ‘किला’ है ये एंबुलेंस- पूर्व डीजीपी

इस बीच उत्तर प्रदेश के पूर्व डीजीपी बृजलाल ने मुख्तार अंसारी की लक्जरी बुलेटप्रूफ एम्बुलेंस को लेकर बड़ा खुलासा किया है. बृजलाल ने कहा है कि ये मामूली एम्बुलेंस नहीं बल्कि मुख़्तार का चलता फिरता क़िला है. उन्होंने कहा कि यह सिर्फ एंबुलेंस नहीं बल्कि चलता-फिरता मुख्तार का वो साम्राज्य है, जिसके जरिए मुख़्तार अपने कारनामे अंजाम देता रहा है. इस गाड़ी में सेटेलाइट फोन के अलावा हथियार, असलहे और गुर्गे भी रहते हैं. मुख्तार इनका इस्तेमाल करता है. इस एम्बुलेंस का ड्राइवर मुख़्तार का बेहद करीबी है, जो मुहमदाबाद का रहने वाला है, उसका नाम सलीम है. उत्तर प्रदेश में भी जेल के बाहर इसकी यही एम्बुलेंस खड़ी रहती थी. जिसके साथ आगे पीछे गाड़ी से गुर्गे भी चलते थे.

 

 

 

 

 

Source Link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Latest Post

दस्तक अभियान में प्लानिंग और प्रशिक्षण पर दें पर्याप्त ध्यान : स्वास्थ्य आयुक्त

मध्य-प्रदेश ; दस्तक अभियान के पहले कार्य-योजना तैयार करने और अभियान से जुड़े अमले को प्रशिक्षण देने पर पर्याप्त ध्यान दिया जाये। दस्तक अभियान की...

हरिद्वार में कांवड़ यात्रा के लिए स्वास्थ्य विभाग ने बनाई कार्ययोजना, यात्रियों के लिए 18 स्थानों पर बनाए जांएगे स्वास्थ्य केंद्र

हरिद्वार।  कांवड़ मेले में आने वाले शिवभक्तों को स्वास्थ्य सेवाएं देने के लिए स्वास्थ्य विभाग ने कार्ययोजना बनानी शुरू कर दी है। सीएमओ ने कांवड़...

अभी तक श्री बदरीनाथ नौ लाख पंद्रह हजार, केदारनाथ आठ लाख सैंतालीस हजार , गंगोत्री पहुंचे चार लाख सैंतीस हजार तथा यमुनोत्री पहुंचे तीन...

देहरादून।  चारधाम यात्रा में श्रद्धालुओं का सैलाब उमड़ा है आज तक 25 लाख 38 हजार दो सौ सत्तासी तीर्थयात्री उत्तराखंड चारधाम दर्शन हेतु पहुंच गये...

मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने की भगवान श्री तिरुपति बालाजी मन्दिर में पूजा- अर्चना

  उत्तराखंड  देहरादून।   मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामीआंध्र प्रदेश के दौरे पर पहुंचे हुए है, इस दौरान सीएम ने आज तिरुमाला पर्वत पर स्थित भगवान...

44वें शतरंज ओलिंपियाड की मशाल पहुँची भोपाल, खेल मंत्री श्रीमती सिंधिया को ग्रैंड मास्टर अनुराग महामल ने सौंपी टॉर्च

मध्य-प्रदेश ; प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा 19 जून को रवाना की गई 44वें शतरंज ओलिंपियाड की मशाल रिले 4 जुलाई सोमवार को भोपाल पहुँची। ग्रैंड...

गोट वैली विलेज मुख्यमंत्री घसियारी कल्याण योजना और एम्पेक्स कंप्यूटराइजेशन में तेजी लाने को सचिव सहकारिता ने दिए निर्देश

 देहरादून केंद्रीय मंत्रिमंडल ने 63,000 पैक्स समितियों के कंप्यूटरीकरण के लिए 2,516 करोड़ रुपये की राशि मंजूर की है। प्रधानमंत्री की अध्यक्षता में हुई मंत्रिमंडल...

एकनाथ शिंद ने साबित किया बहुमत, फडणवीस बोले हां, महाराष्ट्र में ईडी की सरकार है, विपक्ष को समझाया ईडी का मतलब

महाराष्ट्र। महाराष्ट्र विधानसभा में आज एकनाथ शिंदे नीत भाजपा शिवसेना के बागी गुट की सरकार ने बहुमत साबित कर दिया। विश्वास प्रस्ताव पर चर्चा...