Breaking News
राष्ट्रीय राजधानी में जारी पानी की किल्लत को लेकर चरम पर पहुंची सियासत, आमने- सामने आए भाजपा और आप पार्टी के नेता
मानसखण्ड की तरह केदारखण्ड मंदिर माला मिशन भी बनायें- महाराज
मुख्यमंत्री ने केदारनाथ धाम में वर्ष 2013 की भीषण त्रासदी में दिवंगत आत्माओं की शांति के लिए की ईश्वर से प्रार्थना।
बस हादसाः सीएम की अफसरों को दो टूक, दायित्व निर्वहन में शिथिलता पर होगी कड़ी कार्रवाई
CM धामी ने जाना ऋषिकेश में उपचार हेतु भर्ती रुद्रप्रयाग में हुई वाहन दुर्घटना के घायलों का हालचाल।
गर्मी के दिनों में पीएं ठंडा-ठंडा मौसंबी का जूस, मिलेंगे ये 5 मुख्य फायदे
अनानास खाने के बाद कुछ लोगों के गले में क्यों होने लगती है खुजली, यह किसी बीमारी का संकेत तो नहीं?
भाजपा प्रमुख रविंदर रैना ने की रियासी हमले में मारे गए बस चालक के बहादुरी भरे कार्यों की सराहना
मुख्यमंत्री धामी ने चम्पावत को आदर्श जनपद बनाने के लिए बनाई जा रही कार्ययोजना और कार्यों की समीक्षा की

नैनीताल में वाहनों का दबाव बढ़ता देख पुलिस ने विशेष यातायात प्लान किया लागू

नैनीताल। शहर में ग्रीष्मकालीन पर्यटन सीजन में पर्यटकों की बंपर आमद बनी हुई है। सुबह से ही पर्यटकों का दबाव बढ़ने का असर शहर की आंतरिक सड़कों पर पर्यटक वाहन रेंगते रहे और जाम लगने से पर्यटक व स्थानीय लोगों को भारी फजीहत उठानी पड़ी। वाहनों का दबाव बढ़ता देख पुलिस ने विशेष यातायात प्लान लागू कर दिया है। एंट्री प्वाइंट पर पर्यटक वाहनों को रोककर शटल सेवा के माध्यम से शहर तक भेजा गया। शहर में करीब तीन हजार वाहनों से 20 हजार से अधिक पर्यटकों के पहुंचने का अनुमान लगाया जा रहा है। रूसी बाइपास व नारायण नगर में करीब चार सौ पर्यटक वाहनों को रोका गया है और शटल सेवा से पर्यटकों की शहर में एंट्री की गई।

सुबह ही शहर में पर्यटक वाहनों की हल्द्वानी, कालाढूंगी व भवाली रोड से कतार लगी रही। डीएसए, अशोक पार्किंग, बीडी पाण्डे के समीप, अंडा मार्केट, मेट्रोपोल में पुरानी व नई पार्किंग, कलेक्ट्रेट, तल्लीताल व सूखाताल फुल हो जाने के बाद सड़कों पर जाम की स्थिति बन गई। भारी संख्या में नैनीताल पहुंचे पर्यटक कैंची धाम की ओर भी रुख करते दिखे। जिससे भवाली मार्ग में सेनेटोरियम से जोखिया तक वाहनों की लंबी कतार लगी रही। पर्यटक वाहनों का दबाव बढ़ता देख करीब 11 बजे पुलिस ने विशेष यातायात प्लान लागू कर दिया।

भवाली की ओर से आ रहे पर्यटक वाहनों को मस्जिद तिराहे से वाया ज्योलीकोट डायवर्ट किया जा रहा है जबकि हल्द्वानी और कालाढूंगी से आने वाले पर्यटक वाहनों को रूसी व नारायण नगर क्षेत्र में पार्क करवाया गया। जहां से पार्किंग वाले होटलो में एडवांस बुकिंग कर आने वाले पर्यटक वाहनों को ही एंट्री दी गई। रोके गए वाहनों के पर्यटकों को शटल सेवा के माध्यम से शहर तक लाया गया। हालांकि शहर के भीतर पार्किंग स्थलों में स्थान खाली होने के बाद पुलिस पर्यटक वाहनों को रोक-रोककर प्रवेश भी देती रही।

पर्यटकों की आमद बढ़ने से शहर में खासी चहल-पहल बनी रही। केव गार्डन, स्नो व्यू, चिड़ियाघर, बॉटनिकल गार्डन, वॉटरफॉल समेत तमाम पर्यटन स्थल पर्यटकों से पटे रहे। नैनी झील में नौकायन करने वाले पर्यटकों का भी तांता लगा रहा। पर्यटन कारोबारियों का कहना है कि आगामी दो सप्ताह तक शहर में पर्यटन सीजन चरम पर रहेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back To Top